abhivainjana


Click here for Myspace Layouts

Followers

Monday, 12 November 2012

मिलकर मनाएं चलो दिवाली





मिलकर मनाएं चलो दिवाली
रह जाए न देखो ,कोई कोना खाली
घर –घर दीपों की झड़ी लगादें
मिलकर मनाएं चलो दिवाली……

नव ज्योति के झिलमिल पंखो से
आओ हटा दें हर घर से अँधेरा
करें जगमग आस किरणों को
लाएं फिर एक नया सवेरा
मिलकर मनाएं चलो दिवाली…..

चमक रोशनी की कुछ ऐसी हो
कि राह भटक जाए ‘अंधेरा’
फिर कभी न हो किसी ह्रदय में
उदासी का यूँ गहन बसेरा
मिलकर मनाएं चलो दिवाली....

 मानव के ह्रदय भूमि पर,
जलती रहे सदैव दिव्य प्रकाश
फिर आलैकिक होगा घरती पर
दिव्यता का सघन आभास 
मिलकर मनाएं चलो दिवाली….
**********************


दीपावली की सभी मित्र बंधुओ को हार्दिक 

शुभकामनाएं

 महेश्वरी कनेरी

33 comments:

  1. चमक रोशनी की कुछ ऐसी हो
    कि राह भटक जाए ‘अंधेरा’
    फिर कभी न हो किसी ह्रदय में
    उदासी का यूँ गहन बसेरा
    मिलकर मनाएं चलो दिवाली...
    वाह ... बहुत ही बढिया
    दीप पर्व की अनंत शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  2. दीप पर्व की आपको व आपके परिवार को ढेरों शुभकामनायें

    मन के सुन्दर दीप जलाओ******प्रेम रस मे भीग भीग जाओ******हर चेहरे पर नूर खिलाओ******किसी की मासूमियत बचाओ******प्रेम की इक अलख जगाओ******बस यूँ सब दीवाली मनाओ

    ReplyDelete
  3. दीपावली की बहुत बहुत शुभकामनाएँ

    ReplyDelete
  4. मन के भावो को खुबसूरत शब्द दिए है अपने.....आपको भी दीपावली की बहुत शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  5. सुन्दर प्रस्तुति!
    --
    दीवाली का पर्व है, सबको बाँटों प्यार।
    आतिशबाजी का नहीं, ये पावन त्यौहार।।
    लक्ष्मी और गणेश के, साथ शारदा होय।
    उनका दुनिया में कभी, बाल न बाँका होय।
    --
    आपको दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ!

    ReplyDelete
  6. बहुत ही सुन्दर प्रस्तुति!
    आपको भी दीप पर्व की हार्दिक शुभकामनाएँ!

    ReplyDelete
  7. अति सुन्दर रचना.....
    आपको सहपरिवार दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ
    :-)

    ReplyDelete
  8. आपको सपरिवार दीप उत्सव पर हार्दिक शुभ कामनाएं |रचना बहुत अच्छी लगी |
    आशा

    ReplyDelete
  9. चमक रोशनी की कुछ ऐसी हो की ,राह भटक जाए अँधेरा ....,बहुत सुंदर मन के भाव ,भावपूर्ण रचना | दिवाली की हार्दिक शुभकामना |

    ReplyDelete
  10. बहुत खूबसूरत प्रस्तुति,,,
    दीपावली की ढेर सारी शुभकामनाओं के साथ,,,,
    RECENT POST: दीपों का यह पर्व,,,

    म्यूजिकल ग्रीटिंग देखने के लिए कलिक करें,

    ReplyDelete
  11. आपके इस प्रविष्टि की चर्चा कल बुधवार (14-12-2012) के चर्चा मंच पर भी होगी । जरुर पधारें ।
    सूचनार्थ ।

    ReplyDelete
  12. मंगलमय हो दीपों का त्यौहार... आपको व आपके समस्त परिवार को दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें......

    ReplyDelete
  13. सुन्दर दीपावली सन्देश

    हरे माँ लक्ष्मी हर का क्लेश

    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं ...

    ReplyDelete



  14. ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
    ♥~*~दीपावली की मंगलकामनाएं !~*~♥
    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
    सरस्वती आशीष दें , गणपति दें वरदान
    लक्ष्मी बरसाएं कृपा, मिले स्नेह सम्मान

    **♥**♥**♥**● राजेन्द्र स्वर्णकार● **♥**♥**♥**
    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ

    ReplyDelete
  15. आप सबको सपरिवार दीपावली शुभ एवं मंगलमय हो। अंग्रेजी कहावत है -A healthy mind in a healthy body लेकिन मेरा मानना है कि "Only the healthy mind will keep the body healthy ."मेरे विचार की पुष्टि यजुर्वेद क़े अध्याय ३४ क़े (मन्त्र १ से ६) इन छः वैदिक मन्त्रों से भी होती है .

    http://krantiswar.blogspot.in/2012/11/2-2010-6-x-4-t-d-s-healthy-mind-in.html

    ReplyDelete
  16. मानव के ह्रदय भूमि पर,
    जलती रहे सदैव दिव्य प्रकाश
    फिर आलैकिक होगा घरती पर
    दिव्यता का सघन आभास
    मिलकर मनाएं चलो दिवाली….

    जीवन की सार्थकता का सन्देश देती है

    ReplyDelete
  17. बहुत सुंदर...आपको सपरिवार दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं!

    ReplyDelete
  18. यह दैवीय प्रकाश हमारे ह्रदय में सदा ही जलती है ... दीपावली की सादर शुभकामनाएं आपको भी ..
    मधुरेश

    ReplyDelete
  19. सुन्दर सन्देश .....
    दीपोत्सव की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  20. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
    Replies
    1. इस मंगल पर्व पर

      बहुत बहुत शुभकामनाये ।

      सुन्दर प्रस्तुति ।।

      Delete
  21. ***********************************************
    धन वैभव दें लक्ष्मी , सरस्वती दें ज्ञान ।
    गणपति जी संकट हरें,मिले नेह सम्मान ।।
    ***********************************************
    दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं
    ***********************************************
    अरुण कुमार निगम एवं निगम परिवार
    ***********************************************

    ReplyDelete
  22. देर से सही हार्दिक शुभ कामनाएं .सुन्दर रचना अच्छा रोचक है .
    मेरी नई रचना "हम बच्चे भारत के " www.kpk-vichar.blogspot.in

    ReplyDelete
  23. उदासी का तम हरती सुंदर और सार्थक रचना के लिए बधाई !

    ReplyDelete
  24. बहुत सुंदर रचना
    क्या कहने

    दीपावली की बहुत सारी शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  25. सुंदर रचना.. हार्दिक शुभकामनाएँ !

    ReplyDelete
  26. बेह्तरीन अभिव्यक्ति .बहुत अद्भुत अहसास.सुन्दर प्रस्तुति.
    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाये आपको और आपके समस्त पारिवारिक जनो को !

    मंगलमय हो आपको दीपो का त्यौहार
    जीवन में आती रहे पल पल नयी बहार
    ईश्वर से हम कर रहे हर पल यही पुकार
    लक्ष्मी की कृपा रहे भरा रहे घर द्वार..

    ReplyDelete
  27. चमक रोशनी की कुछ ऐसी हो
    कि राह भटक जाए ‘अंधेरा’
    फिर कभी न हो किसी ह्रदय में
    उदासी का यूँ गहन बसेरा
    मिलकर मनाएं चलो दिवाली.... आमीन

    ReplyDelete
  28. चमक रोशनी की कुछ ऐसी हो
    कि राह भटक जाए ‘अंधेरा’

    बहुत सुन्दर भाव

    ReplyDelete
  29. सन्देशा देती हुई, कविता भाव सटीक ।

    दीवाली का दिया सच, भागे अंध-अलीक ।।

    ReplyDelete
  30. आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति का लिंक लिंक-लिक्खाड़ पर है ।।

    ReplyDelete
  31. दीपों से एक बार फिर यह जग आलोकित हुआ।

    देवोत्थानी एकादशी और कार्तिक पूर्णिमा की शुभकामनाएं।

    ReplyDelete